मीडिया रिलीज़

वित्तीय परिणाम – FY 21 Q4 और YTD, स्वचलित और संयुक्त परिणाम

23-04-2021

ग्रामीण और अर्ध-शहरी बाज़ारों में वित्तीय सेवा प्रदान करने में अग्रणी महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंसियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) के निदेशक मंडल ने 31 मार्च, 2021, को समाप्त हुई चौथी तिमाही और वित्तीय वर्ष के अंकेक्षित वित्तीय परिणाम घोषित किये।

वित्तीय परिणाम – FY 21 Q3 और YTD, स्वचलित और संयुक्त परिणाम

28-01-2021

ग्रामीण और अर्ध-शहरी बाज़ारों में वित्तीय सेवा प्रदान करने में अग्रणी महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंसियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) के निदेशक मंडल ने 31 दिसम्बर, 2020, को समाप्त हुई तीसरी तिमाही और नौ महीने की अवधि के अनंकेक्षित वित्तीय परिणाम घोषित किये।

महिंद्रा फाइनेंस – वित्तीय परिणाम – FY21 Q2 और H1, स्वचलित और संयुक्त

26-10-2020

FY21 Q2 और H1, स्वचलित और समेकित परिणाम स्वचलित: महिंद्रा फाइनेंस FY21 H1 PAT ₹ 459 करोड़ पर 43% ऊपर FY21-H1 प्राप्ति ₹ 5,304 करोड़, 7% ऊपर PBT ₹ 620 करोड़ पर 10% ऊपर AUM ₹ 81,000 करोड़ के पार, 12% ऊपर

महिंद्रा फाइनेंस के राइट्स इशू का ज़बरदस्त स्वागत

13-08-2020

भारत की डिपाजिट टेकिंग गैर-बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों में से एक महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंसियल सर्विसेज लिमिटेड (“महिंद्रा फाइनेंस” या “कंपनी”) द्वारा ₹ 3088.82 करोड़ की राशि जमा करने के लिए अपने फ़ास्ट ट्रैक राइट्स इशू (“राइट्स इशू”) की सफल समाप्ति की घोषणा की। इस राइट्स इशू को लगभग 1.3 गुना सब्सक्रिप्शन मिला और इसके परिणामस्वरूप ₹ 4000* करोड़ से अधिक की मांग उत्पन्न हुई।

महिंद्रा फाइनेंस का राइट्स इशू 28 जुलाई को खुलेगा

28-07-2020

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंसियल सर्विसेज लिमिटेड (“महिंद्रा फाइनेंस” या “कंपनी”), जो भारत की अग्रणी डिपाजिट-टेकिंग नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों में एक महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड की सहायक कंपनी है, द्वारा उनका राइट्स इशू 28 जुलाई, 2020, को खोला जायेगा।

वित्तीय परिणाम - वित्तीय वर्ष 20 तिमाही 3 और वाईटीडी, स्टैंडअलोन और समेकित परिणाम

28-01-2020

ग्रामीण और अर्ध-शहरी बाजारों में वित्तीय सेवाओं के अग्रणी प्रदाता, महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) के निदेशक मंडल ने आज 31 दिसंबर, 2019, को समाप्त तिमाही और नौ महीने की अवधि के लिए गैर-लेखापरीक्षित वित्तीय परिणाम घोषित किए।

महिंद्रा फाइनेंस नासिक में 2-व्हीलर से लेकर 20-व्हीलर तक महा लोन मेले का आयोजन करेगी

18-12-2019

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज (महिंद्रा फाइनेंस), जो कि ग्रामीण और अर्ध-शहरी बाजारों पर ध्यान केंद्रित करती एक प्रमुख नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनी (एनबीएफसी) है, नासिक में 2-व्हीलर से लेकर 20-व्हीलर तक महा लोन मेला आयोजित कर रही है। यह दो दिवसीय कार्यक्रम 19 और 20 दिसंबर, 2019, को कृषि उतपन्न बाजार समिति, शरदचंद्र पवार मुख्य बाजार अवर, जोपुल रोड, पिंपलगाँव बासवंत, तालुका निफद, नासिक - 422209 में सुबह 9:00 बजे से लेकर रात 9:00 बजे तक होगा।

महिंद्रा फाइनेंस और आइडियल फाइनेंस श्रीलंका में संयुक्त उद्यम करेंगे

20-08-2019

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस), जो कि ग्रामीण और अर्ध-शहरी बाजारों पर केंद्रित, भारत की प्रमुख एनबीएफसी (नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनी) है, ने आइडियल फाइनेंस लिमिटेड, जो कि अग्रणी श्रीलंकाई समूह, आइडियल ग्रुप की पूरी तरह से स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, के साथ एक संयुक्त उद्यम में प्रवेश किया है। महिंद्रा फाइनेंस मार्च 2021, तक आइडियल फाइनेंस में 58.2% तक की हिस्सेदारी के लिए 2 अर्ब श्रीलंकाई रूपये का निवेश करेगी।

महिंद्रा फाइनेंस एकल परिणाम (स्टैंडएलोन रिजल्ट) दिसम्बर 2018

25-01-2019

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) ग्रामीण एवं अर्द्ध शहरी बाजारों में वित्तीय सेवाओं की एक प्रमुख प्रदाता है, इसके निदेशक मण्डल ने 31, दिसम्बर 2018 को समाप्त हुई तृतीय तिमाही तथा नौ-महीने की अवधि के लिए एकल गैर-अंकेक्षित वित्तीय परिणाम (स्टैंडएलोन अनऑडिटेड फाइनेंशियल रिजल्ट) आज घोषित किया।

महिंद्रा फाइनेंस नागपुर में 2-पहिया से लेकर 20-पहिया महा लोन मेला आयोजित करेगा

21-01-2019

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) ने महाराष्ट्र के नागपुर जिला में 2-पहिया से लेकर 20-पहिया महा लोन मेला आयोजित यिका।

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड ने अनसिक्योर्ड सबऑर्डिनेटेड रीडेमेबल नॉन-कन्वर्टिबल डीबेन्चर (एनसीडी) के पब्लिक ईश्यू की घोषण की

03-01-2019

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड ("कम्पनी" अथवा "महिंद्रा फाइनेंस") एनसीडी का पब्लिक ईश्यू लाने की योजना बना रही है, इसे 4 जनवरी 2019 को खोला जाएगा।

महिंद्रा फाइनेंस द्वितीय तिमाही, वित्तीय वर्ष 19 के वित्तीय परिणाम

24-10-2018

आज 30 सितम्बर, 2018 को समाप्त द्वितीय तिमाही तथा आधे वर्ष के लिए अनऑडिटेड वित्तीय परिणामों की घोषणा की गई।

महिंद्रा म्यूचुअल फंड ने एनएफओ 'महिंद्रा रूरल भारत एवं कंजम्पशन योजना' को लॉन्च किया

09-10-2018

महिंद्रा म्यूचुअल फंड, महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (एमएमएफएसएल) के पूर्ण स्वामित्व वाली अधीनस्थ कम्पनी है, इसने महिंद्रा रूरल भारत एवं कंजम्पशन योजना नामक नई ओपेन इंडेड ईक्विटी योजना को लॉन्च किया है।

निर्धन ग्रामीणों को आवास ऋण के लिए आईएफसी ने महिंद्रा ग्रामीण हाउसिंग फाइनेंस में $25 मिलियन का इन्वेस्ट किया

02-08-2018

आईएफसी - विश्वास बैंक समूह का एक सदस्य है, यह ग्रामीण हाउसिंग पर केन्द्रित सबसे बड़ी वित्तीय कम्पनियों में से एक महिंद्रा रूरल हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (एमआरएचएफएल) में रु 1.6 अरब (25 मिलियन डॉलर) का निवेश कर रहा है। एफआरएचएफएल इस धन का प्रयोग गांवों में कम आय वाले उधारकर्ताओं को ऋण देने के लिए प्रयोग करेगा।

महिंद्रा म्यूचुअल फंड ने महिंद्रा क्रेडिट रिस्क योजना नाम नया डेट फंड को लॉन्च किया

26-07-2018

महिंद्रा म्यूचुअल फंड ने 'महिंद्रा क्रेडिट रिस्क योजना' नामक नई ओपेन इंडेड डेट स्कीम को लॉन्च किया है, यह योजना ऐसे निवेशकों के लिए है जो मध्य से दीर्घ अवधि के दौरान उचित आय तथा पूंजी वृद्धि चाहते हैं।

महिंद्रा म्यूचुअल फंड ने अपनी पोर्टफोलियो मैनेजमेन्ट टीम को मजबूत बनाया

10-07-2018

महिंद्रा म्यूचुअल फंड, महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (एमएमएफएसएल) के पूर्ण स्वामित्व वाली अधीनस्थ कम्पनी है, इसने प्रमुख फंड मैनेजर्स की नियुक्ति की घोषणा की है, और साथ ही में पोर्टफोलियो मैनेजमेन्ट टीम को मजबूत बनाया है।

आईएफसी ने महिंद्रा फाइनेंस में $100 मिलियन डॉलर का इन्वेस्ट किया

03-07-2018

आईएफसी जो कि विश्व बैंक समूह का एक सदस्य है, ने महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) में रु 6.4 अरब ($100 मिलियन डॉलर) का निवेश किया है।

तृतीय तिमाही तथा समाप्त हो गए नौ महीनों की अनऑडिटेड वित्तीय परिणाम

24-06-2018

आज 24 जनवरी 2018 को आयोजित बैइक में निदेशक मण्डल ने अन्य चीजों के साथ ही साथ 31 दिसम्बर, 2017 को समाप्त नौ महीनों एवं तृतीय तिमाही के लिए कम्पनी के अनऑडिटेड वित्तीय परिणाम भी अनुमोदित कर दिए हैं। निदेशक मण्डल की बैठक दोपहर में 12:15 बजे आरम्भ हुई तथा 2:30 बजे समाप्त हो गई।

एमएमएफएसएल खड़गपुर में 2-पहिया से लेकर 20-पहिया महा लोन मेला आयोजित करेगा

21-06-2018

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) ने पश्चिम बंगाल के खड़गपुर जिला में 2-पहिया से लेकर 20-पहिया महा लोन मेला आयोजित यिका।

महिंद्रा इंश्योरेंस ब्रोकर्स ने कस्टमाइज्ड जीवन बीमा समाधान प्रदान करने के लिए नागपुर सहकारी बैंक के साथ साझेदारी की

20-06-2018

महिंद्रा इंश्योरेंस ब्रोकर्स लिमिटेड (एमआईबीएल) जो कि ग्रामीण एवं अर्द्ध शहरी भारत, एसएमई एवं कॉरपोरेट को सेवा प्रदान करने वाली एक अग्रणी बीमा कम्पनी है, ने नागपुर सहकारी बैंक (एनएनएसबी) के साथ साझेदारी की है।

महिंद्रा फाइनेंस ने एफडी रेट बढ़ाए

18-06-2018

महिंद्रा फाइनेंस ने सावधि जमा (फिक्स्ड डिपॉजिट) पर ब्याज दर बढ़ा दी है।

महिंद्रा फाइनेंस ने फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दर बढ़ा कर 8.75 प्रतिशत कर दी है

18-06-2018

मुम्बई, जून 18, 2018: महिंद्रा फाइनेंस जो कि ग्रामीण एवं अर्द्ध शहरी बाजारों पर केन्द्रित एक अग्रणी गैर-बैंकिंग वित्तीय कम्पनी (एनबीएफसी) है, ने अपने टर्म डिपॉजिट के ब्याज दर में संशोधन करके उसे बढ़ाने की घोषणा की है। धन जमा करने वाले लोगों के अनुकूल तथा कागजरहित लेनदेन को प्रोत्साहित करने के लिए महिंद्रा फाइनेंस ऑनलाइन डिपॉजिट पर 25 बेसिस प्वॉइंट (बीपीएस) अथवा 0.25 प्रतिशत अतिरिक्त ब्याज का ऑफर दे रही है।

महिंद्रा फाइनेंस ऊधमपुर में 2-पहिया से लेकर 20-पहिया महा लोन मेला आयोजित करेगा

23-05-2018

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) ने जम्मू के ऊधमपुर में 2-पहिया से लेकर 20-पहिया महा लोन मेला आयोजित यिका।

एफ-2018 स्टैंडएलोन परिणाम

25-04-2018

मुम्बई, 25 अप्रैल 2018: महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) ग्रामीण एवं अर्द्ध शहरी बाजारों में वित्तीय सेवाओं की एक प्रमुख प्रदाता है, इसके निदेशक मण्डल ने 31, मार्च 2018 को समाप्त हुई तिमाही तथा बारह-महीने की अवधि / वित्तीय वर्ष के लिए अंकेक्षित वित्तीय परिणाम आज घोषित किया।

महिंद्रा फाइनेंस एफ-2018 स्टैंडएलोन परिणाम

25-04-2018

आज 30 मार्च, 2018 को समाप्त तिमाही तथा बारह महीने / वित्तीय वर्ष के लिए अंकेक्षित वित्तीय परिणामों की घोषणा की गई।

महिंद्रा फाइनेंस वैश्विक स्तर पर ऐसी प्रथम एनबीएफसी बन गई है, जिसे पीपुल सीएमएम® के परिपक्वता स्तर 5 की रेटिंग दी गई है

20-03-2018

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) (एमएमएफएसएल) को सीएमएमआई इंस्टीट्यूट के पीपुल-कैपेबिलिटी मैच्योरिटी मॉडल (पी-सीएमएम) के परिपक्वता स्तर 5 की रेटिंग दी गई है।

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज सेक्टर ने ग्रामीण भारत के लिए डिजिटल वित्तीय साक्षरता कैम्पेन आरम्भ किया

08-03-2018

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज सेक्टर (महिंद्रा एफएसएस) ने ग्रामीण भारत के लिए डिजिटल वित्तीय साक्षरता कैम्पेन आरम्भ किया है।

महिंद्रा इंश्योरेंस ब्रोकर्स लिमिटेड वैश्विक स्तर पर बीएफएसआई सेक्टर की ऐसी प्रथम एनबीएफसी बन गई है, जिसे पीपुल सीएमएम® के परिपक्वता स्तर 5 की रेटिंग दी गई है

16-02-2018

आज घोषणा की गई है कि कम्पनी का मूल्यांकन किया गया है तथा सीएमएमआई इंस्टीट्यूट के पीपुल-कैपेबिलिटी मैच्योरिटी मॉडल (पी-सीएमएम®) के परिपक्वता स्तर 5 की रेटिंग दी गई है, यह पहली ऐसी इंश्योरेंस ब्रोकिंग कम्पनी है, जिसे यह रेटिंग दी गई है।

महिंद्रा फाइनेंस एफ-2018 तिमाही 3 समेकित परिणाम

24-01-2018

आज 31 दिसम्बर, 2017 को समाप्त हुए नौ महीनों तथा तिमाही के लिए अनऑडिटेड वित्तीय परिणाम घोषित किए गए।

महिंद्रा एएमसी ने "महिंद्रा उन्नति इमर्जिंग बिजनेस योजना" आरम्भ की

27-12-2017

महिंद्रा एसेट मैनेजमेन्ट कम्पनी प्राइवेट लिमिटेड (एमएएमसीपीएल) - महिंद्रा म्यूचुअल फंड की निवेश प्रबन्धक है तथा महिंद्रा फाइनेंस के पूर्ण स्वामित्व वाली अधीनस्थ कम्पनी है, यह कम्पनी महिंद्रा उन्नति इमर्जिंग बिजनेस योजना, मिड कैप फंड आरम्भ करेगी - यह एक ओपेन इंडेड ईक्विटी योजना है, जिसमें मुख्य रूप से मिड कैप स्कीम में निवेश किया जाएगा। नया फंड ऑफर 8 जनवरी 2018 को खुलेगा, तथा 22 जनवरी, 2018 को बंद हो जाएगा। उसके बाद इस योजना को लगातार खरीद - बिक्री के लिए 6 फरवरी, 2018 से पुन: खोला जाएगा।

महिंद्रा फाइनेंस बल्लारपुर, चंद्रापुर में 'लाइफलाइन एक्सप्रेस' लायी

27-11-2017

नागपुर/चंद्रापुर, 27 नवम्बर, 2017: महाराष्ट्र सरकार के वित्त एवं नियोजन एवं वन विभाग के माननीय कैबिनेट मंत्री श्री सुधीर मुनगनतिवार ने आज चन्द्रापुर में बल्लारशाह रेलवे स्टेशन पर लाइफलाइन एक्सप्रेस का शुभारम्भ किया, इस अवसर पर महिंद्रा फाइनेंस के चीफ पीपुल ऑफिसर मि. विनय देशपांडे मौजूद थे।

महिंद्रा एएमसी ने महिंद्रा म्यूचुअल फंड कर बचत योजना पर 10 प्रतिशत डिविडेंड की घोषणा की

08-11-2017

महिंद्रा एसेट मैनेजमेन्ट कम्पनी प्राइवेट लिमिटेड (एमएएमसीपीएल) जो कि महिंद्रा म्यूचुअल फंड की निवेश प्रबन्धक है तथा महिंद्रा फाइनेंस के पूर्ण स्वामित्व वाली अधीनस्थ कम्पनी है, ने अपनी ओपेन इंडेड ईक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम - महिंद्रा म्यूचुअल फंड कर बचत योजना - प्रत्यक्ष एवं नियमित योजना में 10 प्रतिशत का डिविडेंड (रु 10 की फेस वैल्यू पर रु 1 प्रति इकाई) की घोषणा की है।

महिंद्रा फाइनेंस के निदेशक मण्डल ने एम एंड एम को क्यूआईपी तथा प्रिफरेंशियल ईश्यू के माध्यम से पूंजी हुटाने के लिए ईक्विटी शेयर पूंजी को जारी करने का अनुमोदन दे दिया है

01-11-2017

मुम्बई, 01 नवम्बर 2017: महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) ग्रामीण एवं अर्द्ध शहरी बाजारों में वित्तीय सेवाओं की एक प्रमुख प्रदाता है, इसके निदेशक मण्डल ने 2.4 करोड़ ईक्विटी शेयर / सिक्योरिटीज तक के लिए क्वालीफाइड इंस्टी्यूशन प्लेसमेन्ट ('क्यूआईपी') मार्ग के माध्यम से ईक्विटी शेयर, जो कि ईक्विटी शेयर में कन्वर्टिबल रहेगा, तथा 2.5 करोड़ ईक्विटी शेयर तक के लिए महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड (एम एंड एम) को एक प्रिफरेंशियल ईश्यू जारी करने के लिए अनुमोदन दिया है, जो कि शेयरधारकों के अनुमोदन के विषयाधीन है।

वि. 2018 दूसरी तिमाही के समेकित परिणाम, आय में 14% की बढ़त, कर पश्चात मुनाफे में 11% की गिरावट, एयूएम 14% की बढ़त के साथ 49918 करेाड़ पर

25-10-2017

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) ग्रामीण एवं अर्द्ध शहरी बाजारों में वित्तीय सेवाओं की एक प्रमुख प्रदाता है, इसके निदेशक मण्डल ने 30, सितम्बर 2017 को समाप्त हुई तिमाही तथा आधे वर्ष के लिए अंकेक्षित वित्तीय परिणाम आज घोषित किया।

वि. 2018 दूसरी तिमाही के समेकित परिणाम

25-10-2017

मुंबई, 25 अक्टूबर, 2017: ग्रामीण और अर्ध-शहरी बाजारों में वित्तीय सेवाओं के प्रमुख प्रदाता, महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) के निदेशक मंडल ने 30 सितंबर 2017 को समाप्‍त तिमाही और छमाही के लिए लेखा-परीक्षित वित्तीय परिणामों की आज घोषणा की।

महिंद्रा फाइनेंस ने ग्रामीण प्रतिभा तलाश - 'भारत की खोज' के विजेताओं की घोषणा की

16-10-2017

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज (महिंद्रा फाइनेंस), जो ग्रामीण और अर्ध-शहरी भारत में वित्तीय सेवाओं का एक अग्रणी प्रदाता है, ने अपने ग्रामीण प्रतिभा खोज कार्यक्रम, 'भारत की खोज' के विजेताओं की घोषणा की है. कार्यक्रम, जो विशेष रूप से ग्रामीण भारत के लिए डिज़ाइन की गई एक अनूठी पहल है, महिंद्रा ग्रुप के 'राइज' दर्शन के अनुरूप है. यह ग्रामीण भारत के दूर-दराज क्षेत्रों से प्रतिभागियों को फाइनल के लिए अर्हता प्राप्त करने से पहले जिला और राज्य स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मंच प्रदान करता है. अंतिम दौर में पहुंचने वाली शीर्ष दस प्रतिभाओं (फाइनलिस्ट) ने मुंबई में ग्रैंड फिनाले में नृत्य, संगीत, कला और लाइव थिएट्रिक्स सहित विभिन्न प्रदर्शन कलाओं में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

महिंद्रा फाइनेंस ग्रामीण भारत में बढ़ती बीमा पैठ पर ध्यान देने के साथ नए इन्‍वेस्‍टमेंट को आकर्षित करता है

16-10-2017

महिंद्रा इंश्योरेंस ब्रोकर्स लिमिटेड (एमआईबीएल); एक प्रमुख बीमा दलाल, जो मुख्य रूप से ग्रामीण और अर्ध-शहरी भारत में अपनी सेवाएं दे रहा है, ने आज घोषणा की कि एक्‍सएल ग्रुप - अपनी सहायक कंपनियों के माध्यम से एक्‍सएल कैटलिन ब्रांड के तहत परिचालनरत एक अग्रणी वैश्विक बीमाकर्ता और पुनर्बीमाकर्ता है – कंपनी में 20% अल्‍पसंख्‍यक हिस्‍सा अधिग्रहण करना चाहता है जो सभी हितधारकों द्वारा प्रथागत बंद भाव की शर्तों को पूरा करने के अधीन होगा. एमआईबीएल, जो कि महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड की एक सहायक कंपनी (महिंद्रा फाइनेंस) और एक लाइसेंसप्राप्‍त सम्‍मिश्र ब्रोकर है, ने पिछले 13 वर्षों में उल्लेखनीय वृद्धि और लाभप्रदता का प्रदर्शन किया है. एमआईबीएल का वर्तमान मूल्‍यांकन 1300 करोड़ रुपये (लगभग 200 मिलियन यूएस डाल्रर) है।

महिंद्रा फाइनेंस ने ग्रामीण प्रतिभा तलाश - 'भारत की योज' के विजेताओं की घोषणा की

16-10-2017

मुंबई, 16 अक्‍टूबर 2017 : महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज (महिंद्रा फाइनेंस), जो ग्रामीण और अर्ध-शहरी भारत में वित्तीय सेवाओं का एक अग्रणी प्रदाता है, ने अपने ग्रामीण प्रतिभा खोज कार्यक्रम, 'भारत की योज' के विजेताओं की घोषणा की है. कार्यक्रम, जो विशेष रूप से ग्रामीण भारत के लिए डिज़ाइन की गई एक अनूठी पहल है, महिंद्रा ग्रुप के 'राइज' दर्शन के अनुरूप है. यह ग्रामीण भारत के दूर-दराज क्षेत्रों से प्रतिभागियों को फाइनल के लिए अर्हता प्राप्त करने से पहले जिला और राज्य स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मंच प्रदान करता है. अंतिम दौर में पहुंचने वाली शीर्ष दस प्रतिभाओं (फाइनलिस्ट) ने मुंबई में ग्रैंड फिनाले में नृत्य, संगीत, कला और लाइव थिएट्रिक्स सहित विभिन्न प्रदर्शन कलाओं में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

वि-2018 पहली तिमाही के एकल परिणाम

24-07-2017

मुंबई, 24 जुलाई, 2017: ग्रामीण और अर्ध-शहरी बाजारों में वित्तीय सेवाओं के अग्रणी प्रदाता, महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) के निदेशक मंडल ने 30 जून, 2017 को समाप्त तिमाही के लिए अलेखापरीक्षित वित्तीय परिणाम आज घोषित किए।

अप्रतिभूत गौण प्रतिदेय अपरिवर्तनीय डिबेंचरों का सार्वजनिक निर्गम

05-07-2017

हम 25,000 लाख रुपये की राशि के लिए 1,000 रुपये प्रत्‍येक के अंकित मूल्य के अप्रतिभूत गौण प्रतिदेय अपरिवर्तनीय डिबेंचरों ("एनसीडी") के 1,75,000 लाख रुपये तक अतिरिक्‍त अभिदान रखने के विकल्‍प के साथ कुल मिलाकर 2,00,000 लाख रुपये तक की राशि के सार्वजनिक निर्गम ("श्रृंखला 1 निर्गम") के संबंध में कंपनी द्वारा आज जारी की गई प्रेस्‍ विज्ञप्‍ति इसके साथ संलग्‍न करते हैं।

महिंद्रा म्‍यूचुअल फंड धन संचय योजना में लाभांश की घोषणा

12-06-2017

महिंद्रा असेट मैनेजमेंट कंपनी प्रा. लिमिटेड (एमएएमसीपीएल), जो महिंद्रा म्यूचुअल फंड के इन्‍वेस्‍ट मैनेजर और महिंद्रा फाइनेंस की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, ने अपनी असीमित अवधि वाले इक्विटी फंड - महिंद्रा म्यूचुअल फंड धनसंचय योजना - प्रत्यक्ष और नियमित योजना में 1.50% ( 10 रुपये के अंकित मूल्य पर 0.15 रुपये प्रति यूनिट) के लाभांश की घोषणा की।

महिंद्रा एएमसी ने दो नई योजनाएं शुरू कीं – महिंद्रा म्‍यूचुअल फंड बालविकास योजना और महिंद्रा म्‍यूचुअल फंड बढ़त योजना

03-05-2017

महिंद्रा असेट मैनेजमेंट कंपनी प्रा. लिमिटेड (एमएएमसीपीएल), जो महिंद्रा म्यूचुअल फंड के इन्‍वेस्‍ट मैनेजर और महिंद्रा फाइनेंस की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, ने दो असीमित अवधि वाली योजनाएं 'महिंद्रा म्यूचुअल फंड बालविकास योजना' , जो एक असीमित अवधि वाली संतुलित योजना है, और 'महिंद्रा म्यूचुअल फंड बढ़त योजना', जो एक असीमित अवधि वाली इक्‍विटी योजना है, शुरू करने की घोषणा की. नया फंड ऑफर 20 अप्रैल, 2017 से खुलेगा और 4 मई, 2017 को बंद हो जाएगा. इसके बाद, योजनाएं 18 मई, 2017 से निरंतर बिक्री और पुनर्खरीद के लिए फिर से खुल जाएंगी।

एफ-2017 चौथी तिमाही के एकल परिणाम – आय में 9% की वृद्धि, संवितरणों में 23% की वृद्धि, कर-पश्‍चात् लाभ में 37% की गिरावट, एयूएम 14% बढ़कर 46000 करोड़ रुपये के पार

25-04-2017

ग्रामीण और अर्ध-शहरी बाजारों में वित्तीय सेवाओं के अग्रणी प्रदाता, महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (महिंद्रा फाइनेंस) के निदेशक मंडल ने 31 मार्च, 2017 को समाप्त तिमाही और वर्ष के लिए लेखा-परीक्षित वित्तीय परिणाम आज घोषित किए।

वि-2017 चौथी तिमाही के एकल परिणाम – आय में 9% की वृद्धि, संवितरणों में 23% की वृद्धि, कर-पश्‍चात् लाभ में 37% की गिरावट, एयूएम 14% बढ़कर 46000 करोड़ रुपये के पार

25-04-2017

महिंद्रा एसेट मैनेजमेंट कंपनी प्रा. लिमिटेड (एमएएमसीपीएल), जो महिंद्रा म्यूचुअल फंड के इन्‍वेस्‍ट मैनेजर और महिंद्रा फाइनेंस की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, ने दो असीमित अवधि वाली योजनाएं 'महिंद्रा म्यूचुअल फंड बालविकास योजना' , जो एक असीमित अवधि वाली संतुलित योजना है, और 'महिंद्रा म्यूचुअल फंड बढ़त योजना', जो एक असीमित अवधि वाली इक्‍विटी योजना है, शुरू करने की घोषणा की. नया फंड ऑफर 20 अप्रैल, 2017 से खुलेगा और 4 मई, 2017 को बंद हो जाएगा. इसके बाद, योजनाएं 18 मई, 2017 से निरंतर बिक्री और पुनर्खरीद के लिए फिर से खुल जाएंगी।

महिंद्रा एएमसी द्वारा महिंद्रा म्‍यूचुअल फंड धनसंचय योजना का लांच

26-12-2016

महिंद्रा असेट मैनेजमेंट कंपनी प्रा. लिमिटेड (एमएएमसीपीएल), जो महिंद्रा म्यूचुअल फंड के इन्‍वेस्‍ट मैनेजर और महिंद्रा फाइनेंस की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, ने आज अपनी असीमित अवधि वाली इक्विटी योजना "महिंद्रा म्‍यूचुअल फंड धन संचय योजना" के लॉन्च की घोषणा की. यह स्कीम इक्विटी और इक्विटी से संबंधित लिखतों (इंस्ट्रूमेंट्स), अंतरपण्‍न (आर्बिट्रेज) के अवसरों और ऋण एवं मुद्रा बाजार लिखतों (इंस्ट्रूमेंट्स) में इन्‍वेस्‍टमेंट के जरिए दीर्घावधि पूंजी अभिबृद्धि और आय उत्‍पन्‍न करना चाहती है. नया फंड ऑफर 10 जनवरी, 2017 से खुलेगा और 24 जनवरी, 2017 को बंद हो जाएगा. इसके बाद, यह योजना 8 फरवरी, 2017 से निरंतर बिक्री और पुनर्खरीद के लिए फिर से खुल जाएगी।

महिंद्रा फाइनेंस ने फोर्ब्स इंडिया लीडरशिप अवार्ड्स 2016 में 'कॉन्शियस कैपिटलिस्ट फॉर द ईयर' पुरस्कार जीता

11-11-2016

ग्रामीण और अर्ध-शहरी भारत में वित्तीय सेवाओं के अग्रणी प्रदाता, महिंद्रा फाइनेंस को समुदाय को व्‍यापक लाभ पहुंचाने वाली टिकाऊ और परिवर्तनकारी कारोबारी प्रथाओं को बढ़ावा देने में उसकी महत्‍वपूर्ण भूमिका के लिए फोर्ब्स इंडिया लीडरशिप अवार्ड्स 2016 में 'कॉन्शियस कैपिटलिस्ट फॉर द ईयर' पुरस्कार से सम्‍मानित किया गया।

दीर्घावधि निवेश के माध्‍यम से कर बचाएं और कर-मुक्‍त इन्‍वेस्‍टमेंट कॉर्पस बनाएं

22-08-2016

महिंद्रा असेट मैनेजमेंट कंपनी प्रा. लिमिटेड (एमएएमसीपीएल), जो महिंद्रा म्यूचुअल फंड के इन्‍वेस्‍ट मैनेजर और महिंद्रा फाइनेंस की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, ने आज महिंद्रा म्यूचुअल फंड कर बचत योजना - एक असीमित अवधि वाली ईएलएसएस योजना लॉन्च की, जिसमें 3 साल की लॉक-इन अवधि है. नया फंड ऑफर 7 अक्टूबर, 2016 को बंद हो गया, और 19 अक्टूबर, 2016 से सतत् बिक्री और पुनर्खरीद के लिए फिर से खुल जाएगा।

महिंद्रा इंश्योरेंस ब्रोकर्स ने बीमे की पहुंच को बढ़ाने के लिए एक अभिनव "पे-ऐज-यू-कैन" मॉडल शुरू किया

07-07-2016

महिंद्रा इंश्योरेंस ब्रोकर्स लिमिटेड (एमआईबीएल) ने डिजिटल रूप से सक्षम मॉडल के रूप में एक अभिनव "पे-ऐज-यू-कैन" शुरू किया है, जो भारत में बीमा समाधानों के वितरण को फिर से परिभाषित करेगा और भारत में बीमे की पहुंच को संचालित करेगा. यह सामाजिक रूप से प्रगतिशील पहल ग्राहकों को बीमा उत्पादों तक पहुंच प्रदान करेगी, जिसमें उनकी भुगतान क्षमता के आधार पर प्रीमियम का भुगतान करने का लचीलापन होगा. यह मॉडल किसी भी सेवा प्रदाता को एक बड़े ग्राहक आधार के साथ सक्षम करेगा, जिससे वे अपने ग्राहकों को सहज तरीके से सस्ती और जरूरत के मुताबिक बीमा सुरक्षा प्रदान कर सकें।

खबरों में

07-09-2021
द इकोनॉमिक टाइम्‍स

Mahindra Finance disburses over Rs 2,000 crore in August

Mahindra Finance, a leading non-banking financial company, said the business continued its momentum in August 2021 with a disbursement of more than Rs 2,000 crore for the second month in a row.

29-06-2020
Forbes

बैंकों और एनबीएफसी को समाधान प्रदाता बनना होगा: रमेश अय्यर, एमएंडएम फाइनेंसियल सर्विसेज

महिंद्रा फाइनेंस ग्रामीण भागों पर केन्द्रित अर्ध-शहरी फाइनेंस कंपनी है। हमारी सभी 1,300 से अधिक शाखाएं मेट्रो शहरो के बाहर हैं। इसीलिए, हमारा 90 प्रतिशत बिज़नस अर्ध-शहरी ग्रामीण मार्केट्स से आता है। शहरों में हमारी उपस्थिति मेट्रो शहरों में ओला और उबर के टैक्सी चलाने वाले ग्राहकों तक सिमित है; बड़े शहरों में हमारी उपस्थिति नहीं हैं।

20-02-2020
फाइनेंशियल एक्सप्रेस

महिंद्रा फाइनेंस छोटे-टिकट लोन बुक को 25,000 करोड़ रुपये तक बढ़ाएगी

कंपनी 12 महीनों तक नियमित तौर पर अपनी किश्तें भरनेवाले विद्यमान ग्राहकों को व्यक्तिगत, उपभोक्ता वस्तु, और दुपहिया लोन देती आई है।

19-02-2020
लाइव मिंट

महिंद्रा फाइनेंस के हिसाब से अक्टूबर तक वाहनों की मांग में बढौती

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंसियल सर्विसेज लि. (एमएमएफएसएल) के उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक रमेश अय्यर ने कहा कि अधिक सख्त भारत स्टेज-II (BS-VI) एमिशन नियमों की तरफ बढनेवाली ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री जैसे-जैसे स्थिर हो रही है वैसे-वैसे इस साल आगे त्यौहारों के मौसम से ग्राहकों की मांग बढ़ना शुरू होने की अपेक्षा है।

28-01-2020
द इकोनॉमिक टाइम्‍स

महिंद्रा फाइनेंस का Q3 का प्रॉफिट 16% बढ़कर ₹ 475 हुआ

महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंसियल सर्विसेज लि. ने मंगलवार को 31 दिसम्बर, को समाप्त हुई तीसरी तिमाही में अपने संयुक्त कुल लाभ में 16 प्रतिशत की वृद्धि बताई

28-01-2020
इकनोमिक टाइम्स

खेत से लेकर घर तक, एमएंडएम फाइनेंशियल डिजिटल बिक्रियों को दोगुना कर रही है

विविधता अक्सर नए रास्ते खोल सकती है। महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज के लिए, शायद इसने अभी ही आय के नए रास्ते खोले हैं।

26-10-2017
बैंकिंग फ्रंटियर्स

महिंद्रा फाइनेंस – ग्रामीण वित्‍त में जाना-पहचाना नाम

महिंद्रा फाइनेंस ग्रामीण वित्त पर जोर देने के साथ देश में एनबीएफसी के बीच आज सबसे उच्‍च मुकाम पर है. कंपनी के वीसी और एमडी रमेश अय्यर, जो स्‍वयं द्वारा विकसित किए गए व्यवसाय मॉडल के बारे में भावुक हैं, ने 1995 में शुरू की गई 22 साल पुरानी यात्रा के बारे में बताया।

26-04-2018
द इकोनॉमिक टाइम्‍स

हम ग्रामीण बाजार में काम करने वाले प्रत्येक ओईएम के लिए एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं: रमेश अय्यर, एम एंड एम फाइनेंशियल

एम एंड एम फाइनेंशियल सर्विसेज के एमडी रमेश अय्यर ने ईटी नाउ से बातचीत करते हुए कहा कि कमर्शियल वीकल्‍स और छोटे निर्माण उपकरणों के निर्माण में हमारा आधार कम था लेकिन हमें वहां से जोरदार वृद्धि दिखाई दे रही है।

26-04-2018
द इकोनॉमिक टाइम्‍स

चुनावी वर्ष में नकदी प्रवाह बनाए रखने के लिए ग्रामीण भारत में अच्छे के लिए चीजें बदल रही हैं,: रमेश अय्यर, एमएंडएम फाइनेंशियल

अगर ईटी नाउ से बात करते हुए एम एंड एम फाइनेंशियल सर्विसेज के एमडी रमेश अय्यर कहते हैं कि अगर उधार लेने की लागत बढ़ती रहती है तो उसे उपभोक्‍ताओं को हस्‍तांतरित करने की गुंजाइश हमेशा बनी रहती है।

25-04-2018
द इकोनॉमिक टाइम्‍स

महिंद्रा फाइनेंस का चौथी तिमाही में लाभ वर्ष-दर-वर्ष 82% बढ़कर 425 करोड़ रुपये हुआ

मुंबई: महिंद्रा फाइनेंस ने वित्त वर्ष 2017-18 की चौथी तिमाही में कर पश्‍चात् लाभ में 82% की वृद्धि दर्ज की, जिसका मुख्य कारण आस्‍तियों की गुणवत्ता और ऋण की मांग में सुधार था।

26-04-2018
हिंदू बिजनेस लाइन

चौथी तिमाही के निवल लाभ पर एमएंडएम फाइनेंशियल सर्विसेज के शेयर रिकॉर्ड ऊँचाई पर पहुंचे

महिंद्रा एंड महिंद्रा फिन सर्विसेज के शेयर 5 प्रतिशत बढ़कर 533.05 रुपये के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गए, क्योंकि कंपनी का मार्च-तिमाही का लाभ 79 प्रतिशत बढ़कर 513 करोड़ रुपये (76.69 मिलियन डॉलर) हो गया और 31 मार्च 2018 को प्रबंधनाधीन कुल आस्‍तियां 18 प्रतिशत बढ़कर 55,101 करोड़ रूपये हो गईं।

27-04-2018
फाइनेंशियल एक्‍सप्रेस

‘ब्‍याज दरों में 50-60 आधार अंकों की वृद्धि का अनूमान है.’ – रमेश अय्यर, वाइस चेयरमैन एवं एमडी, महिंद्रा फाइनेंस

प्रावधानों में काफी कमी आई है और इससे लाभ में वृद्धि हुई है. इसके बारे में कोई संदेह नहीं है. महिंद्रा फाइनेंस के वाइस-चेयरमैन और एमडी रमेश अय्यर ने कहा कि दूसरी बात यह भी है कि हम अपने निवल ब्याज मार्जिन को बनाए रखने में समर्थ रहे हैं।

मीडिया कवरेज

प्रिंट

एमएंडएम की ई-प्लेटफार्म के माध्यम से ₹ 20,000-करोड़ के स्माल टिकेट लोन पर नज़र

महिंद्रा फाइनेंस के कुल लाभ में 34% की उछाल

ग्रामीण भागों में अच्छे प्रदर्शन के कारण एमएंडएम फाइनेंस का लाभ 34% से भी ऊपर

महिंद्रा फाइनेंस Q2 का संयुक्त कुल लाभ 34% बढ़कर ₹353 करोड़ हुआ

महिंद्रा फाइनेंस राइट्स इशू हुआ 1.3 गुना सब्सक्राइब हुआ

खेत से लेकर घर तक, एमएंडएम फाइनेंशियल डिजिटल बिक्रियों को दोगुना कर रही है

महिंद्रा फाइनेंस के चीफ रमेश अय्यर एफआईडीसी के प्रमुख होंगे

हम उम्मीद करते हैं कि मांग बढ़ेगी और दूसरी छमाही अच्छी होगी: रमेश अय्यर, एमएंडएम फाइनेंशियल

त्योहार के सीजन में व्यापार शुरू करने के लिए विकास की वास्तविक कहानियां

6% सकल एनपीए – द इकोनॉमिक टाइम्‍स

एंटर 2 व्‍हीलर फाइनेंसिंग – द इकोनॉमिक टाइम्‍स

50-60 आधार अंकों की वृद्धि का अनुमान – फाइनेंशियल एक्‍सप्रेस

गो ऑनलाइन - द इकोनॉमिक टाइम्‍स

ग्रोथ ट्रैजेक्‍टरी बिजनेस इंडिया 13/08/2018

लिस्‍ट रूरल हाउसिंग फाइनेंस आर्म – बिजनेस स्‍टैण्‍डर्ड

एम एंड एम फाइनेशियल सर्विसेज़ – स्‍टेप्‍स ऑन पेडल– बिजनेस स्‍टैण्‍डर्ड

चौथी तिमाही के निवल लाभ में 82% का उछाल – बिजनेस लाइन

15,000 करोड़ रुपये तक जुटाया – मिंट

वित्‍तीय वर्ष 19 की दूसरी छमाही – मिंट

विशेष रिपोर्ट – दलाल स्‍ट्रीट इन्‍वेस्‍टमेंट जर्नल

टीवी

ऑनलाइन

महिंद्रा फाइनेंस की फिनटेक बिजनेस अलग करने की योजना, बैंकिंग लाइसेंस के बारे में विचार

अधिक जानिए

चौथी तिमाही में अच्छी एनपीए वसूली की अपेक्षा: रमेश अय्यर, महिंद्रा फाइनेंस

अधिक जानिए

महिंद्रा फाइनेंस Q2 कुल लाभ 34% बढ़ा

अधिक जानिए

महिंद्रा फाइनेंस का Q2 का संयुक्त कुल लाभ 34% बढ़कर ₹353 करोड़ हुआ

अधिक जानिए

FY21 में एमएंडएम के लिये चार ग्रोथ ड्राइवर्स पर रमेश अय्यर

अधिक जानिए

महिंद्रा फाइनेंस का ₹ 3,089 करोड़ का राइट्स इश्यू 1.3 गुना सब्सक्राइब हुआ।

अधिक जानिए

एमएंडएम फाइनेंशियल सर्विसेज़ के रमेश अय्यर का कहना है अक्तूबर के बाद ग्रामीण क्षेत्र से मांग में कायापलट की संभावना।

अधिक जानिए

राइट्स इश्यू 2-3 वर्षों तक हमारी पूँजी की ज़रुरतों को पूरा करेगा।

अधिक जानिए

महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज़ का Q1 में कर पूर्व लाभ 98% बढ़कर 208 करोड़ रुपये हुआ।

अधिक जानिए

मनी कंट्रोल लेख: अप्रैल-जून में महिंद्रा फाइनेंस ने 156 करोड़ रुपए का लाभ दर्ज किया।

अधिक जानिए

बैंकों और एनबीएफसी को समधान प्रदाता बनना होगा: रमेश अय्यर, एमएंडएम फाइनेंशियल सर्विसेज़।

अधिक जानिए

महिंद्रा फाइनेंस अक्टूबर तक ऑटो मांग में पुनः प्रवर्तन देख रही है

अधिक जानिए

महिंद्रा फाइनेंस छोटे-टिकट लोन बुक को 25,000 करोड़ रुपये तक बढ़ाएगी

अधिक जानिए

महिंद्रा फाइनेंस का तीसरी तिमाही का लाभ 16% बढ़कर 475 करोड़ रुपये हुआ

अधिक जानिए

चुनावी वर्ष में नकदी प्रवाह बनाए रखने के लिए ग्रामीण भारत में अच्छे के लिए चीजें बदल रही हैं – 26 अप्रैल

अधिक जानिए

एमएंडएम फाइनेंशियल सर्विसेज़ को अशोध्‍य ऋणों में और कमी की उम्‍मीद – 26 अप्रैल

अधिक जानिए

हम भर्तीकर्ताओं से क्‍या अपेक्षा करते हैं ? – 30 मई

अधिक जानिए

हम दरों में वृद्धि का फायदा अंतत: उपभोक्‍तआओं को देंगे – 08 जून

अधिक जानिए

गॉवों में नकदी इस भारतीय उधारदाता के लिए संघर्ष के अंत का संकेत देती है – 14 जून

अधिक जानिए

आईएफसी ने महिंद्रा फाइनेंस में 100 मिलियन डालर इन्‍वेस्‍ट किया – 04 जुलाई

अधिक जानिए

व्‍यापक मानसून ग्रामीण बाजार के लिए अच्‍छी शुरुआत रहा है – एमएमएफएसएल – 09 जुलाई

अधिक जानिए

कृषि और एमएसएमई क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए आईएफसी (विश्‍व बैंक की संस्‍था) ने महिंद्रा फाइनेंस में 100 मिलियन यूएस डालर इन्‍वेस्‍ट किया – 03 जुलाई

अधिक जानिए

एफएलआईपी महिंद्रा फाइनेंस – 24 जुलाई

अधिक जानिए

MD - July 31 ऋण वृद्धि प्री-ओन्‍ड व्‍हीकल्‍स, सीवी द्वारा संचालित है, महिंद्रा फाइनेंस के एमडी का कहना है – 31 जुलाई

अधिक जानिए

Worst In Terms Of Bad Loans Is Over, Says M&M Financial Services - July 30

Know More

मीडिया किट

ओवरव्यू

महिन्द्रा एंड महिन्द्रा फायनेंशियल सर्विसेज लि. (महिन्द्रा फायनांस) भारत की अग्रणी गैर-बैंकिंग वित्त कम्पनियों/नॉन-बैंकिंग फायनांस कम्पनीज में एक हैं| ग्रामीण तथा अर्ध-नगरीय क्षेत्र पर अपना ध्यान केन्द्रित करनेवाली इस कम्पनी के 7.3 बिनियन उपभोक्ता हैं और 1.1 अरब अमरीकी डॉलर से अधिक प्रबंधन के तहत परिसंपत्तियां (assets under management) हैं| यह कम्पनी वाहन तथा ट्रेक्टर के लिए अग्रणी वित्तदाता (फायनेंसर) हैं तथा एसएमई को ऋण प्रदान करती हैं एवं फिक्स्ड डिपाजिट भी मुहैया कराती है| कंपनी के 1,380 से अधिक एमएमएफएसएल कार्यालय हैं और देश भर में 3,80,000 गाँवों और 7,000 शहरों में बसे ग्राहकों तक पहुँचती है। यह महिंद्रा समूह का एक हिस्सा है, जो देश के सबसे बड़े व्यापारिक घरानों में से एक है।

से अधिक एयूएम

11 बिनियन यूएस डालर

पूरे भारत में

1380+ कार्यालय

ग्राहक

7.3+ मिलियन

समग्र भारत में

3,80,000 गांवों और 7000 कस्‍बों में

डाऊनलोड

तथ्‍य पत्रक

कार्यकारी की प्रोफाइल

डॉ. अनीश शाह

डॉ. अनीश शाह महिंद्रा समूह के लिए समूह अध्यक्ष (रणनीति) हैं. उनके प्रमुख फोकस क्षेत्र रणनीति विकास और कार्यान्वयन, डिजिटलीकरण और एनालिटिक्स जैसी क्षमताओं का निर्माण, विशेष रूप से अमेरिका और अफ्रीका में अंतर्राष्ट्रीय वृद्धि को संचालित करना है. समूह रणनीति कार्यालय जोखिम प्रबंधन और कार्य-निष्‍पादन समीक्षा का भी नेतृत्व करता है, साथ ही समूह की कंपनियों के बीच तालमेल को सक्षम बनाता है।

2014 में महिंद्रा एंड महिंद्रा में कार्यग्रहण करने से पहले, डॉ. अनीश शाह जीई कैपिटल इंडिया के अध्यक्ष और सीईओ थे, जहां उन्होंने इसके एसबीआई कार्ड संयुक्त उद्यम में कायापलट सहित कारोबार के रूपांतरण का नेतृत्व किया. जीई में उनका कार्यकाल 14 वर्ष का था. ग्‍लोबल मार्गेज के निदेशक के रूप में, उन्होंने वृद्धि को संचालित करने और जोखिम का प्रबंधन करने के लिए तीस से अधिक देशों में काम किया, और जीई मॉर्गेज इंश्‍योरंस में वरिष्‍ठ वाइस प्रेसिडेंट (विपणन और उत्पाद विकास) के रूप में, उन्होंने विभिन्न विकास पहलों का नेतृत्व किया और आईपीओ के लिए जीई के पृथक्‍करण के रूप में कारोबार को तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. डॉ. अनीश शाह को "डिजिटल कॉकपिट" विकसित करने में सिक्स सिग्मा के उत्कृष्ट उपयोग के लिए जीई का प्रतिष्ठित लुईस लेटिमर पुरस्कार भी मिला. जीई से पहले, डॉ अनीश शाह ने बैंक ऑफ़ अमेरिका, बैन एंड कंपनी और सिटी बैंक में भी कार्य किया था।

डॉ. शाह ने कार्नेगी मेलन के टेपर स्कूल ऑफ बिजनेस से पीएचडी की उपाधि प्राप्‍त की है, जहां उनकी डॉक्टरेट थीसिस कॉर्पोरेट गवर्नेंस के क्षेत्र में थी. उन्होंने कार्नेगी मेलन से मास्टर डिग्री और भारतीय प्रबंधन संस्थान, अहमदाबाद से प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमा प्राप्त किया।

डॉ. अनीश शाह

गैर-कार्यकारी अध्यक्ष
श्री रमेश अय्यर

श्री. रमेश अय्यर हे ३० एप्रिल २००१ पासून कंपनीचे व्यवस्थापकीय संचालक आहेत. त्यांनी सुरुवातीपासून आमच्यासोबत काम केलं आहे. व्यवसायाचा विकास, फायनान्स आणि मार्केटिंग संबंधी फार मोठा अनुभव त्यांना आहे. श्री. रमेश अय्यर हे होल्डिंग कंपनी, एम अँड एमच्या ग्रुप एक्झेक्युटीव बोर्डाचे सदस्यही आहेत. शिवाय महिन्द्रा गु्रप कंपनीच्या विविध मंडळावर कार्यरत आहेत. त्यांनी कॉमर्समध्ये पदवी मिळवली आणि बिझनेस ऍडमिनिस्ट्रेशनमध्ये मास्टर्स डिग्री प्राप्त केली आहे.

श्री. अय्यर हे बॉंबे चेंबर ऑफ कॉमर्स आणि इंडस्ट्रीच्या बँकिंग आणि फायनान्स कमिटी, कोर कमिटी ऑफ फायनान्स इंडस्ट्री डेवलपमेंट काउंसिल (एफआयडीसी) आणि टास्क फोर्स ऑफ एनबीएफसीज् ऑफ फेडरेशन ऑफ इंडियन चेंबर्स ऑफ कॉमर्स अँड इंडस्ट्री (एफआयसीसी) ह्यांचे सदस्य आहेत. तसेच, इंडियन ऑटोमोबाइल मॅन्यूङ्गॅक्चरर्स (एसआयएएम) ह्यांनी स्थापन केलेल्या फायनान्स अँड लीजिंग अँड इंशूरंस ऑफ दि काउंसिल ऑफ इकोनॉमिक अफेअर्सवरील ग्रुपचे सह-अध्यक्ष आहेत.

श्री. अय्यर ह्यांनी विविध पुरस्कार आणि सन्मान मिळवून आपल्या कारकिर्दीला उजाळा दिला. त्यांनी इंडियन आचिवर्स फोरमकडून इंडियन आचिवर्स अवार्ड फॉर कॉर्पारेट लीडरशिप हा मानाचा पुरस्कार प्राप्त केला. नवी दिल्लीतील इंस्टिट्यूट ऑफ इकॉनॉमिक स्टडीजकडून बिझनेस लीडरशिप पुरस्कार जिंकला. एंप्लॉयर ब्रँडिंग इंस्टिट्यूट, सीएमओ अशिया आणि त्यांचे धोरणात्मक भागीदार सीएमओ काउंसिलकडून ‘सीईओ विथ एचआर ओरिएंटेशन’ पुरस्काराने त्यांच्यामधील नेतृत्व गुणांना सन्मानित करण्यात आले. तसेच, नवी दिल्लीच्या इंस्टिट्यूट ऑफ इकॉनॉमिक स्टडीजकडून उद्योग रत्न पुरस्कार मिळाला आणि पुण्याच्या काउंसिल फॉर इकॉनॉमिक ग्रोथ अँड रिसर्चकडून प्रतिभा पुरस्कार प्राप्त झाला. मुंबईच्या नॅशनल एज्यूकेशन अँड ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट संस्थेने त्यांना भारतीय उद्योग रत्न पुरस्कार देऊन त्यांच्या शिरपेचात मानाचा तुरा खोवला. इतकंच नाही तर श्री. रमेश अय्यर भारतातील सर्वात प्रतिभाशाली सीईओज्च्या बिझनेस वल्डर्स स्पेशल रिपोर्टमध्येही झळकले. मध्यम व्यवसाय करणार्‍या कंपन्यांच्या यादीत ते ६५ पैकी ५ व्या स्थानावर (उत्पन्न: रु.१००० – ३००० कोटी) आणि त्याच वर्गवारीत ६५ पैकी ६ व्या स्थानावर आहेत. हे यश त्यांच्या एका वर्षाच्या कामगिरीच्या आधारावर आहे. शिवाय, कंपनीच्या पाच वर्षांच्या कामगिरीच्या आधारावर ते १०० पैकी २० वे मानकरी ठरले आहेत आणि आर्थिक क्षेत्रात १२ पैकी ३ रे स्थान पटकावले आहे.

श्री रमेश अय्यर

उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक
श्री धनंजय मुंगले

श्री. धनंजय मुंगळे हे भारतीय चार्टर्ड अकाउंटंट्स संस्थेचे सदस्य असून त्यांनी मुंबई विद्यापीठातून कॉमर्स आणि कायद्याची पदवी मिळवली आहे. त्यांनी आपल्या करियरमधील फार मोठा काळ भारत आणि युरोपातील कॉर्पोरेट आणि इनवेस्टमेंट बँकिंग क्षेत्रात घालवला. ते प्रायव्हेट बँकिंग, बँक ऑफ अमेरिकामध्ये उपाध्यक्ष होते. तसेच, कार्यकारी समिती, डीएसपी मेरिल लिंच लिमिटेडचे सदस्य होते. सध्या भारत आणि युरोप दोन्ही देशात ते विविध मंडळांवर सल्लागार म्हणून काम करतात. विविध सार्वजनिक आणि खासगी मर्यादित कंपन्यांच्या मंडळावर त्यांची निवड झाली आहे. ऑक्सफर्ड सेंटर फॉर हिंदू स्टडीज, ऑक्सफर्ड, यूके च्या डेवलपमेंट काउंसिलचे ते सदस्य आहेत आणि महिन्द्रा युनाइटेड वर्ल्ड कॉलेजच्या नॅशनल कमिटीचे सदस्य आहेत.

श्री धनंजय मुंगले

चेयरमैन तथा स्वतंत्र निदेशक (डायरेक्टर) 
श्री सी. बी. भावे

श्री चंद्रशेखर भावे ने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बैचलर्स डिग्री पूरी करने के बाद 1975 में भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में अपना करियर शुरू किया। उन्होंने केंद्र और राज्य सरकारों में विभिन्न पदों पर काम किया और परिवार कल्याण और प्रशासन में उत्कृष्टता के क्षेत्र में बेहतरीन कार्य के लिए महाराष्ट्र सरकार से पुरस्कार भी जीता। फिर उन्होंने भारतीय कैपिटल मार्केट्स के लिए नियामक बुनियादी ढाँचा बनाने में मदद करने हेतु, 1992-1996 तक एक वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक के रूप में सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ़ इंडिया (SEBI) में काम किया।

इसके बाद श्री भावे ने 1996 में नेशनल सेक्युरिटीस डिपॉजिटरी लिमिटेड (एनएसडीएल) की स्थापना के लिए आईएएस से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली और 1996 से 2008 तक इसके अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक रहे। श्री भावे 2008 से 2011 तक भारत के कैपिटल मार्केट रेगुलेटर, सेबी के अध्यक्ष थे। इन्ही वक्तों में वह एशिया-पैसिफिक रीजनल कमेटी के चेयरमैन और इंटरनेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ सिक्योरिटीज कमिशन (IOSCO) की तकनीकी और कार्यकारी समितियों के सदस्य भी थे।

श्री भावे की कई पेशेवर संबद्धताएं हैं:

पब्लिक इंटरेस्ट ओवरसाइट बोर्ड (PIOB), मैड्रिड जो जनहित के नजरिए से इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ अकाउंटेंट्स के स्टैण्डर्ड-सेटिंग निकायों के काम का पर्यवेक्षण करता है, के बोर्ड के सदस्य। सिटी ऑफ़ लंदन एडवाइजरी कौंसिल फॉर इंडिया के सदस्य। ‘IFRS फाउंडेशन, लंदन’ जो अंतर्राष्ट्रीय लेखा मानक बोर्ड की देखरेख करता है, के ट्रस्टी।

श्री सी. बी. भावे

स्वतंत्र निदेशक
श्रीमती रमा बीजापुरकर

सुश्री रमा बीजापुरकर ने विज्ञान (Hons.) में बैचलर्स डिग्री प्राप्त की है और दिल्ली विश्वविद्यालय के मिरांडा हाउस से फिजिक्स में डिग्री प्राप्त की है। वह इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेनेजमेंट, अहमदाबाद से मेनेजमेंट में पोस्ट-ग्रेजुएट डिप्लोमा अर्जित करने के लिए गई, जहाँ वह अब गवर्नर्स बोर्ड की एक सक्रिय सदस्य और विजिटिंग फैकल्टी है। वह एक स्वतंत्र मार्केट स्ट्रेटेजी सलाहकार है और एडवरटाइजिंग, मार्केटिंग और कंसल्टेंसी जैसे उद्योगों में लगभग 30 वर्षों का अनुभव रखती है। वह पहले मैकिन्से एंड कंपनी, एसी नील्सन इंडिया के साथ जुड़ी हुई थीं और हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड के साथ सलाहकार के रूप में काम कर चुकी हैं। उभरते बाजार और उपभोक्ता से संबंधित मुद्दों पर उनके कई प्रकाशन हैं और उन्होंने विनिंग इन द इंडियन मार्केट - अंडरस्टैंडिंग ऑफ द कंज्यूमर इंडिया’ नाम की किताब लिखी है।

वर्तमान में, सुश्री बीजापुरकर विभिन्न प्रतिष्ठित कंपनियों के बोर्डों में एक स्वतंत्र निदेशक हैं।

श्रीमती रमा बीजापुरकर

स्वतंत्र निदेशक
श्री मिलिंद सरवटे

श्री मिलिंद सरवटे एक स्वतंत्र निदेशक, कॉस्ट अकाउंटेंट, कंपनी सेक्रेटरी, कॉमर्स ग्रेजुएट और CII-फुलब्राइट फेलो (कार्नेगी मेलन यूनिवर्सिटी, पिट्सबर्ग, यूएसए) हैं। वह मैरिको और गोदरेज जैसे समूहों में फाइनांस, एचआर, स्ट्रेटेजी और कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन में 35 से अधिक वर्षों का अनुभव रखते हैं।

श्री मिलिंद सरवटे इनक्रीयेट वैल्यू एडवाइजर्स एलएलपी के संस्थापक और सीईओ हैं। उनका मिशन ऑर्गनाइजेशन और व्यक्तियों को व्यापार और सामाजिक मूल्य बनाने की सुविधा प्रदान करना है। वह विभिन्न भूमिकाओं, जैसे सलाहकार, बोर्ड के सदस्य और निवेशक के माध्यम से अपने मिशन की ओर काम करता है।

उनकी सलाहकार भूमिकाएँ कंस्यूमर सेक्टर और सोशल रेस्पोसिबिलिटी सेक्टर को कवर करती हैं। उनके निर्देशन में ग्लेनमार्क, माइंडट्री, मेट्रोपोलिस हेल्थकेयर, मैट्रीमोनी.कॉम और हाउस ऑफ अनिता डोंगरे शामिल हैं। उनके निवेश क्षेत्रों में कंस्यूमर सेक्टर और फंड / फाइनांस और मानव संसाधन के कार्यक्षेत्र विशेषज्ञता के आसपास बनी संस्थाएं शामिल हैं।

श्री मिलिंद सरवटे को 2011 में ICAI अवार्ड-सीएफओ-एफएमसीजी और 2012 में सीएनबीसी टीवी -18 सीएफओ अवार्ड-एफएमसीजी और रिटेल अवार्ड मिला। उन्हें 2013 में सीएफओ इंडिया के हॉल ऑफ फेम में शामिल किया गया था।

श्री मिलिंद सरवटे

स्वतंत्र निदेशक
श्री अमित राजे

वर्तमान में अमित राजे महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंसियल सर्विसेज लिमिटेड में पूर्णकालीन निदेशक हैं और “चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर डिजिटल फाइनैन्स- डिजिटल बिज़नस यूनिट” का पद संभल रहे हैं। अमित जुलाई 2020, में एग्ज़ेक्यूटिव वाईस प्रेसिडेंट – पार्टनरशिप्स एंड अलायन्सेस के तौर पर महिंद्रा ग्रुप में शामिल हुए और उन पर एमएंडए तथा इन्वेस्टर रिलेशनशिप्स का ज़िम्मा था। महिंद्रा ग्रुप में शामिल होने से पहले, अमित गोल्डमैन सैक्स के प्रिंसिपल इन्वेस्टिंग एरिया में प्रबंध निदेशक थे। वें नोवेलटेक फीड्स प्राइवेट लिमिटेड, गुड होस्ट स्पेसेस प्राइवेट लिमिटेड तथा ग्लोबल कंज्यूमर प्रोडक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के बोर्डस् पर गोल्डमैन सैक्स के मनोनीत निदेशक भी रह चुके हैं। श्री अमित राजे को कॉर्पोरेट फाइनैन्स, मर्जर्स एंड ऐक्विज़िशन्स, तथा प्राइवेट इक्विटी में कुल मिलाकर २० वर्ष से भी अधिक अनुभव प्राप्त हैं। गोल्डमैन सैक्स से पहले, श्री अमित राजे, कोटक महिंद्रा बैंक की वैकल्पिक परिसंपत्ति शाखा (आल्टरनेट एसेट आर्म) कोटक इन्वेस्टमेंट एडवाइजर्स लिमिटेड तथा डेलोईट एंड कं। की ट्रांजेक्शन एडवाइजरी सर्विसेज में काम कर चुके हैं। श्री अमित राजे मुंबई विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर हैं और लंडन बिज़नस स्कूल से फाइनैन्स एंड प्राइवेट इक्विटी में स्पेशलाइजेशन के साथ एमबीए किया है।

श्री अमित राजे

पूर्णकालीन निदेशक – “चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर डिजिटल फाइनैन्स- डिजिटल बिज़नस यूनिट” के रूप में नियुक्त
डॉ. रेबेक्का न्युजंट

डॉ. रेबेक्का न्युजंट स्टेटिस्टिक्स एंड डेटा साइंस की स्टीफन ई. एंड जॉयसी फ़िनबर्ग प्रोफ़ेसर, कार्नेगी मेलन स्टेटिस्टिक्स एंड डेटा साइंस डिपार्टमेंट की एसोसिएट डिपार्टमेंट हेड तथा अंडरग्रेजुएट स्टडीज की सह-निदेशक, तथा ब्लॉक सेंटर फॉर टेक्नोलॉजी एंड सोसाइटी की संबद्ध फैकल्टी मेम्बर हैं। उन्हें स्टेटिस्टिक्स एंड डेटा साइंस कंसल्टिंग, अनुसंधान, अनुप्रयोग, शिक्षा, तथा प्रशासन में विश्वविद्यालयस्तर की शिक्षा का 15 वर्षों से भी अधिक अनुभव प्राप्त है। डॉ. न्युजंट इम्प्रूविंग डिफेन्स एक्वीजीशन वर्कफोर्स कैपेबिलिटी इन डेटा यूज़ पर नेशनल अकैडमी ऑफ़ साइंसेज, इंजीनियरिंग, एंड मेडिसिन स्टडी की सह-अध्यक्ष हैं और उन्होंने हाल ही एन.ए.एस.ई.एम. (नासेम) के अध्ययन एनविज़निंग द डेटा साइंस डिसिप्लिन: द अंडरग्रेजुएट पर्सपेक्टिव पर काम किया है।

वें व्यवसायों के वर्तमान चुनौतियों के लिए डेटा साइंस समाधान विकसित कर उन्हें लागू करने के लिए उद्यमों तथा सरकारी संगठनों के साथ साझेदारी करनेवाली अनुभवात्मक अधिगम पहल स्टेटिस्टिक्स एंड डेटा साइंस कॉर्पोरेट कैप्स्टोन प्रोग्राम की संस्थापक निदेशक हैं और वित्त, मार्केटिंग, स्वास्थ्य व्यवस्था, तथा शिक्षा प्रौद्योगिकी में दुनिया भर के उद्यमों के साथ परामर्श करती रहती हैं। डॉ. न्युजंट क्लस्टरिंग एंड क्लासिफिकेशन मेथडॉलॉजी में बड़े पैमाने पर काम कर चुकी हैं, जिसमें उन्होंने अधिकतर हाई-डायमेंशनल, बिग डेटा प्रॉब्लम तथा रिकॉर्ड लिंकेज एप्लीकेशन पर ध्यान केन्द्रित किया है और वें इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ़ क्लासिफिकेशन सोसाइटीज की प्रेसिडेंट (2022 के लिए) सहित संबंधित अग्रणी पदों पर काम कर चुकी हैं। उनके वर्तमान अनुसंधान का केंद्रबिंदु इंटरैक्टिव डेटा एनालिटिक्स प्लेटफॉर्म विकसित करना तथा उन्हें लागू करना है जो डेटा पर आधारित फैसले लेने को बढ़ावा देते हैं और जिसमें अनुकूली निर्देशों (एडाप्टिव इंस्ट्रक्शन्स) को तथा डेटा साइंस का एक विज्ञान के तौर पर अध्ययन करने को शामिल हैं।

वें कई राष्ट्रीय और विश्वविद्यालय अध्यापन अवार्ड भी जीत चुकी हैं जिनमें इनोवेशन इन स्टेटिस्टिक्स एजुकेशन के लिये अमेरिकन स्टैटिस्टिकल एसोसिएशन वालर अवार्ड भी शामिल है और स्प्रिन्गर टेक्स्ट्स इन स्टेटिस्टिक्स की सह-संपादक के तौर पर भी काम करती हैं।

उन्हें वाशिंगटन विश्वविद्यालय से स्टेटिस्टिक्स में पीएच.डी. किया है और स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से स्टेटिस्टिक्स में एम.एस. कर चुकी हैं, और उन्होंने राइस विश्वविद्यालय से मैथमेटिक्स, स्टेटिस्टिक्स और स्पेनिश में बी.ए. किया हैं।

डॉ. रेबेक्का न्युजंट

स्वतंत्र निदेशक (डायरेक्टर)
श्री अमित सिन्हा

1 नवम्बर, 2020, से श्री अमित सिन्हा मूल कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा (“एमएंडएम”) द्वारा प्रेसिडेंट, ग्रुप स्ट्रेटेजी नियुक्त किया गया है। श्री अमित सिन्हा ग्रुप स्ट्रेटेजी ऑफिस के प्रमुख हैं एवं कम, मध्यम और लंबे समय के दौरान वृद्धि के लिए ग्रुप के सम्पूर्ण बिज़नस पोर्टफोलियो के साथ काम करते हैं। वें अंतर्राष्ट्रीय कौंसिल का भी काम देख्त्ते हैं और दोनों अमरीका, एशिया पैसिफिक, और अफ्रीका के अंतर्राष्ट्रीय तालमेल के काम का समन्वय करने में मदद करते हैं। उनके पोर्टफोलियो में जोखिम तथा अर्थशास्त्रीय कार्य भी शामिल हैं। वें ग्रुप कॉर्पोरेट ऑफिस लीडरशिप टीम का हिस्सा हैं।

एमएंडएम में शामिल होने से पहले, श्री अमित सिन्हा, बेन एंड कंपनी में वरिष्ठ पार्टनर तथा निदेशक रह चुके हैं। बेन में उनके 18 वर्षों के दौरान उन्होंने बड़े पैमाने पर, कई देशों की स्ट्रेटेजी, संगठन, डिजिटल, तथा प्रदर्शन सुधार प्रोजेक्ट्स का काम संभाला। उन्होंने समूची अमरीका तथा भारत में अग्रणी प्राइवेट इक्विटी फंड्स के लिए कई सम्यक उद्यम और सम्पूर्ण क्षमतावाले पोर्टफोलियो स्ट्रेटेजी प्रोजेक्ट्स (बाईआउट के बाद) का भी काम संभाला। श्री अमित सिन्हा ने अपने करिअर की शुरुआत टाटा मोटर्स के साथ की और उन्होंने आईगेट पटनी (अब केपजेमिनी) के लिए भारत, सिंगापुर और अमरीका में टेक्नोलॉजी लीडरशिप में काम किया।

श्री अमित सिन्हा के पास दि व्हार्टन स्कूल, यूनिवर्सिटी ऑफ़ पेन्सिल्वेनिया से फाइनैन्स एंड स्ट्रेटेजी में दोहरी एमबीए की डिग्री प्राप्त हैं और वहां वें पामर स्कॉलर रह चुके हैं एवं उन्हें सिबेल स्कॉलरशिप भी मिल चुकी हैं। उनके पास बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, रांची, से बैचलर ऑफ़ इंजीनियरिंग (इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स) की डिग्री हैं। श्री अमित सिन्हा अनंता ऐस्पन के इंडिया लीडरशिप फेलोशिप प्रोग्राम के हिस्से के तौर पर अनंता ऐस्पन फेलो भी हैं।

श्री अमित सिन्हा

अतिरिक्त गैर-कार्यकारी गैर-स्वतंत्र निदेशक

मीडिया संपर्क

श्री मोहन नायर

हमसे संपर्क करें

महिन्द्रा एंड महिन्द्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड
चौथी मंजिल, महिन्द्रा टावर्स,
डॉ। जी.एम. भोसले मार्ग,
पी.के. कुरने चौक, वर्ली,
मुंबई 400 018.

यहां क्लिक करे आपकी नज़दीकी महिन्द्रा फायनांस शाखा को लोकेट करने के लिए

Calculate Your EMI

  • Diverse loan offerings
  • Less documenation
  • Quick processing
Loan Amount
Tenure In Months
Rate of Interest %
Principal: 75 %
Interest Payable: 25 %

For illustration purpose only

Total Amount Payable

50000

Fraud AdvisoryContact ServiceWhatsApp
*